Breaking News

हमीरपुर अस्पताल की नर्स ने दुखी होकर की अपनी जीवन लीला समाप्त परिजनों ने शव को सड़क पर रखकर किया हंगामा जाने पूरी खबर


अस्पताल हमीरपुर की स्टाफ नर्स की मौत को लेकर शुक्रवार को परिजनों और ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया।शिमला-हमीरपुर मुख्य मार्ग के तहत भोटा चौक पर स्टाफ नर्स के शव को बीच सड़क में रखकर परिजनों ने कॉलेज एवं अस्पताल प्रशासन और पुलिस विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। करीब ढाई घंटे तक चक्का जाम और नारेबाजी से माहौल काफी तनावपूर्ण हो गया।परिजन इस मामले में आरोपी अस्पताल के सीनियर स्टाफ की गिरफ्तारी पर अड़े रहे। वहीं, पुलिस ने अस्पताल पहुंच कर स्टाफ नर्सों के ड्यूटी रजिस्टर को अपने कब्जे में ले लिया है।इसके साथ ही अस्पताल स्टाफ से भी पूछताछ की गई। पुलिस मृतक स्टाफ नर्स के मोबाइल कॉल की डिटेल भी खंगाल रही है ताकि, पता चल सके कि कहीं फोन पर किसी से कोई बहसबाजी तो नहीं हुई।

हमीरपुर अस्पताल की नर्स ने दुखी होकर की अपनी जीवन लीला समाप्त परिजनों ने शव को सड़क पर रखकर किया हंगामा जाने पूरी खबर

गांव पलासी डाकघर कश्मीर, उपमंडल नादौन जिला हमीरपुर की रहने वाली 32 वर्षीय मोनिका हमीरपुर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में स्टाफ नर्स के पद पर सेवाएं दे रही थीं। वीरवार को ड्यूटी खत्म होने के बाद मोनिका अपने कमरे में पहुंची और पंखे से लटक कर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या से पहले उसने एक सुसाइड नोट लिखा था, जिसमें उसने अस्पताल की सीनियर वार्ड सिस्टर पर उसे मानसिक रूप से प्रताड़ित करने के आरोप लगाते हुए अपनी मौत के लिए जिम्मेवार ठहराया।

No comments