Breaking News

जमीन बेचने के नाम पर 22 लाख की धोखाधड़ी

घुमारवीं में जमीन की खरीद के एक मामले में हमीरपुर के रहने वाले एक व्यक्ति से लाखों रुपए की धोखाधड़ी हुई है। धोखाधड़ी का शिकार होने वाला एक बैंक कर्मी बताया जा रहा है। जमीन बेचने वाले ने बैंक कर्मी से 22 लाख रुपए ले लिए। खरीददार ने जमीन की रजिस्ट्री आदि पर भी काफी रकम खर्च की, लेकिन उसे न तो जमीन का कब्जा मिला और न ही अब पैसे वापस मिल रहे हैं।

धोखाधड़ी का शिकार हुए बैंक कर्मी ने अब पुलिस का दरवाजा खटखटाया है। उसकी शिकायत पर घुमारवीं थाना में आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। शिकायतकर्ता के अनुसार कुछ साल पहले वह घुमारवीं में एक बैंक की ब्रांच में कार्यरत था। इसी दौरान जमीन की खरीद को लेकर उसकी बात नगर परिषद के एक वार्ड के एक व्यक्ति के साथ हुई। बातचीत कें 4 बिस्वा  जमीन का सौदा 22 लाख रुपए में तय हुआ। जमीन बेचने वाले व्यक्ति ने उसे बताया कि वह इस जमीन पर किसी भी समय मकान निर्माण का काम शुरू कर सकता है।

गवाहों की मौजूदगी में उक्त राशि का भुगतान करने के साथ ही उसने जमीन पर कांटेदार बाड़ लगाकर उसे कवर कर लिया। इसके लिए जमीन की रजिस्ट्री समेत अन्य सभी तरह की जरूरी कागजी कार्रवाई भी पूरी की गई। शिकायतकर्ता के अनुसार मकान का काम शुरू करने से पहले नगर परिषद से नक्शा पास करवाया जाना था। इसके लिए पटवारी मौके पर आया। उस समय खुलासा हुआ कि जमीन बेचने वाले ने उसके साथ धोखा किया था। उसे जिस जमीन का कब्जा मिला था,

उसे उसने नहीं बेचा था। इस पर उसने उससे 22 लाख रुपए के साथ ही रजिस्ट्री व कागजातों पर खर्च हुआ, पैसा वापस लौटाने को कहा। जमीन बेचने वाले ने गवाहों की मौजूदगी में इसके लिए हामी भर दी। गत 29 मार्च को आरोपी ने बाकायदा एफेडेविट देकर आश्वस्त किया कि वह उसके सारे पैसे ब्याज सहित लौटा देगा, लेकिन लंबा अरसा बीत जाने के बाद भी उसे पैसे वापस नहीं मिले। गत 18 जून को उसने जमीन बेचने वाले से दोबारा संपर्क किया तो उसने पैसे लौटाने से साफ  इकार कर दिया।

 इतना ही नहीं, उसने उसे धमकी भी दी। शिकायतकर्ता ने आरोपी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के साथ ही उसके पैसे वापस दिलाने की मांग की है। उधर एसएसपी अशोक कुमार ने मामले की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि घुमारवीं थाना में मामला दर्ज करके आगामी  कार्रवाई की शुरू कर दी है।

No comments