Breaking News

हिमाचल की बादियो तक मिराज की गर्जना



पाकिस्तान में आतंकवादियों के ट्रेनिंग सेंटर में हुए भारतीय वायु सेना के हवाई हमले की गूंज हिमाचल में भी सुनाई दी। प्रदेश के सीमांत जिलों लाहौल-स्पीति, कांगड़ा और चंबा में देर रात मिराज-2000 की गर्जना से लोगों की नींद टूट गई।
कई क्षेत्रों में लोग घरों से बाहर निकल आए। लोग यही समझ रहे थे कि कोई विमान जा रहा है। हो सकता है सेना अभ्यास कर रही हो। सुबह जैसे ही टीवी खोला तो अहसास हो गया कि भारतीय सेना ने पाकिस्तान को पुलवामा हमले का करारा जवाब दिया है। 

हिमाचल की वादियों में आवाजें सुनाई देने लगीं

लाहौल-स्पिति निवासी , शांति लाल और सोनम ने बताया कि मंगलवार सुबह पौने चार बजे के आसपास उन्हें लाहौल-स्पिति  की वादियों में आवाजें सुनाई देने लगीं।

जिससे उनकी नींद टूट गई। उन्हें लगा कि पहाड़ी में हिमखंड जैसे गिरने की आवाज है। बाहर निकल कर देखा तो अंधेरी रात में लड़ाकू विमान को जम्मू-कश्मीर की तरफ उड़ते देखा गया। हालांकि, लोगों ने सोचा कि यह भारतीय वायु सेना का अभ्यास है।

लेकिन,जब सुबह मीडिया के जरिये उन्हें पता चला कि वायु सेना ने पीओके में चल रहे आतंकी ट्रेनिंग कैंपों में बड़ा हमला किया है|

सुबह सेना के हमले की टीवी से सूचना मिली


जब लोगो ने सुबह टीवी मे ये खबर देखी की  भारतीय वायु सेना ने पीओके में चल रहे आतंकी ट्रेनिंग कैंपों में बड़ा हमला किया है| इधर, कुल्लू में भी वायुसेना के लड़ाकू विमानों की गर्जना को सुना गया है।  नितेश तथा राज कुमार ने कहा कि उन्हें यह हवाई जहाज की नियमित उड़ान लगी। उन्होंने बताया कि लड़ाकू विमानों की आवाज इतनी तेज थी कि आधी रात को उनकी नींद टूट गई।
Read More :- 

No comments